Breaking News

Thursday, June 24, 2021

पुलिस हिरासत में दलित महिला ने विभिन्न अंगों पर अत्याचार सहन न करने पर तोडा दम, SC आयोग ने मामले में लिया संज्ञान

पुलिस हिरासत में दलित महिला ने विभिन्न अंगों पर अत्याचार सहन न करने पर तोडा दम, SC आयोग ने मामले में लिया संज्ञान 

प्रतीकात्मक चित्र
प्रतीकात्मक चित्र 
हमारी खबरों को फटाफट पढ़ने के लिए Google News पर हमें Follow करे


नई दिल्ली (New Delhi,), 24 जून : तेलंगाना में पिछले दिनों एक दलित महिला ने पुलिस हिरासत में विभिन्न अंगों पर अत्याचार सहन न करने पर अपना दम तोड़ दिया। पुलिस हिरासत में हुई मौत के मामले में आज राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने मामले में कड़ा संज्ञान में लेते हुए तेलंगाना सरकार को नोटिस जारी कर रिपोर्ट मांगी है।  


दरअसल हमे SC आयोग ने जानकारी दी है कि तेलंगाना के जिला भोंगीर के अंतर्गत आते अड्डगुदर पुलिस थाना में एक दलित महिला पर उसके खिलाफ उसी के मालिक ने चोरी का आरोप लगते हुए शिकायत दर्ज करवाई थी। इस के बाद पुलिस ने दलित महिला पर उसके पुत्र उदयकिरण को उठाकर थाने में ले आए। पुलिस हिरासत में पुलिस ने दलित महिला पर उसके पुत्री के सामने उसकी मां के विभिन्न अंगों पर अत्याचार किया था इस का दर्द सहन नहीं होने पर दलित महिला ने अपनी बेटी के सामने दम तोड़ गई। 


अब इस मामले में राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने तेलंगाना के जिले भोंगिर के डीसी व एसपी से पुर मामले की सप्ताह में मांगी है एक्शन टेकन रिपोर्ट। आयोग ने मामले में अधिकारियों को आरोपों/मामले में जांच कर एक सप्ताह में आयोग के समक्ष एक्शन टेकन रिपोर्ट पेश करने का आदेश दिए है। 


सांपला ने आखिर मे कहा कि जिन अफसरों को आयोग ने नोटिस जारी किया गया है अगर उन्होंने सात दिनों में अगर जवाब नहीं आया तो आयोग संविधान की धारा 338 के तहत मिली सिविल कोर्ट की पावर का उपयोग करते हुए संबंधित अफसरों को व्यक्तिगत तौर आयोग के आगे हाजिर होने के समन जारी कर सकता है।


बहुजन समाज की सबसे तेज खबरें पाने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को लाईक करें, Twitter पर फॉलो भी करे और यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

No comments:

Post a Comment