Breaking News

Tuesday, March 23, 2021

झारखंड : 20 वर्षीय दलित लड़की से रेप, पीड़िता और परिजनों को भरी पंचायत सबके सामने पीटा

झारखंड : 20 वर्षीय दलित लड़की से रेप, पीड़िता और परिजनों  को भरी पंचायत सबके सामने पीटा


हमारी खबरों को फटाफट पढ़ने के लिए Google News पर हमें Follow करे


धनबाद (Dhanbad)। झारखंड  से मावता का शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आ रही है जहाँ पर एक 20 साल की दलित लड़की के साथ बेहोश कर के दुष्कर्म किया गया। परिजनों के द्वारा बुलाये पंचायत में पीड़िता और उसके परिजनों की सबके सामने पिटाई की गई। 


घटना झारखंड (Jharkhand) में धनबाद (Dhanbad) जिले के गोविंदपुर ब्लॉक में बताई जा रही है। पीड़िता ने पुलिस में दी शिकायत के अनुसार 12 मार्च को दलित लड़की अपने नानी के घर बस्ताकोला गई हुई थी.वहाँ से उसे लौटने में काफी शाम हो गई। घर के सामने उसी गांव का रहने वाला राहुल विश्वकर्मा पहले से घात लगाए बैठा था। उसेक बाद पीड़िता को आरोपी राहुल  ने पकड़ कर अपने घर के पीछे के जंगल में लेकर गया। 


उसके बाद आरोपी ने पीड़िता के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। पीड़िता का कहना है कि उसने अपनी इज्जत बचाने के लिए आरोपी राहुल मुंह और गले को नोच लिया था। जिसके बाद आरोपी ने लड़की को बेहोश कर के उसके साथ रेप किया। पीड़िता ने घर आकर इस के बारे में अपने परिजनों को जानकारी दी। 


पीड़िता ने जानकारी के बाद परिवार के लोगो ने गांव में पंचायत बैठायी थी। इस के बाद सब से सामने भरी पंचायत में पीड़िता के साथ उसके माता -पिता को खुद आरोपी राहुल विश्वकर्मा और अरविंद विश्वकर्मा, सुमन विश्वकर्मा,जीतेंद्र विश्वकर्मा,पारस विश्वकर्मा, रवींद्र विश्वकर्मा, विमल देवी ने पिटाई कर दी। इस पिटाई के बाद पीड़िता के पिता की तबीयत नाजुक के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कर्यवाया गया। इन सब के बाद पीड़िता ने पुलिस थाने में जाकर FIR दर्ज करवाई। पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। 



बहुजन समाज की सबसे तेज खबरें पाने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को लाईक करें, Twitter पर फॉलो भी करे और यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

2 comments:

  1. बहुत ही निंदनीय है

    ReplyDelete
  2. अगर भारत माँ के नाम पर जरा भी कानून बचा है इस देश में तो अपराधी और आपराधिक मामले को अंजाम देने वाले परिजनों के सरकारी कार्यवाही की जाए साथ ही पीड़िता और उसके परिवार वालों न्याय दिलाया जाए और ग्राम पंचायत फैसलों पर कानूनी कार्रवाई के साथ रोक लगाई जाए...

    ReplyDelete