Breaking News

Wednesday, February 24, 2021

गुजरात : परंपरागत साफा पहनने पर दलित युवक की बारात पर दबंगों ने किया पथराव, जातिगत टिप्पणियां भी कीं

गुजरात : परंपरागत साफा पहनने पर दलित युवक की बारात पर दबंगों ने किया पथराव, जातिगत टिप्पणियां भी कीं 

पतीकत्मक चित्र 

हमारी खबरों को फटाफट पढ़ने के लिए Google News पर हमें Follow करे


बायद (Bayad)आज देश में कई भी जातिवाद का नाम लिया जाता है तो कहते है कि "अब तो जातिवाद खत्म हो गया है" यह कहने वाल  को इस प्रकार की खबरे देखनी चाहिए। देश में जातिवाद की जड़े कितनी गहरी है देखने को मिली गुजरात में जहाँ पर एक युवक की बारात पर उनके रिस्तेदार के द्वारा परंपरागत साफा पहनने पर गांव के दबंगो ने पथराव किया और जातिगत टिप्पणियां भी कीं। पुलिस ने घटना में राजपूत समुदाय के 9 लोगों पर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई।  


जानकारी के अनुसार गुजरात (Gujarat) के अरवल्ली जिले में दलित युवक की बरात पर पथराव किया। अंबालियारा पुलिस थाने के निरीक्षक आरएम दामोर ने कहा कि यह घटना तब हुई जब  'जब बायद कस्बे के निकट लिंच गांव में मंगलवार शाम को बारात शादी के लिये जा रही थी' इस मामले में बुधवार को एक अधिकारी ने बताया कि दूल्हे के कुछ रिश्तेदारों ने सिर पर परंपरागत साफा पहनने तथा गाने बजाने से नाराज होने से बरात पर पथराव किया गया। 


पुलिस में दुल्हन के एक रिश्तेदार ने शिकायत दर्ज करवाई गई। शिकायत में कहा गया कि 'गांव में जब बरात पहुंची तो लिंच के कुछ लोगों ने बरात पर पथराव किया। शिकायत में जानकारी दी गई कि बारात में दलित पुरुषों और महिलाओं के सिर पर "साफा" बांधने पर आपत्ति जताई थी जिससे बरात पर पथराव किया और जातिगत टिप्पणियां भी कीं। 


पीड़ित परिवार ने पुलिस में दंगा, हमला, आपराधिक धमकी देने पर  नौ लोगों के खिलाफ अनुसूचित जाति एवं जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम के तहत शिकायत दर्ज करवाई गई है। 





बहुजन समाज की सबसे तेज खबरें पाने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज 

को लाईक करें, Twitter पर फॉलो भी करे और यूट्यूब चैनल को 

सब्सक्राइब करें।

No comments:

Post a Comment