Breaking News

Thursday, September 10, 2020

जातिवाद : दलित महिला का अंतिम संस्कार करने के दौरान विवाद, 7 घण्टे से शव को जगह नही दी गयी!

जातिवाद : दलित महिला का अंतिम संस्कार करने के दौरान विवाद, 7 घण्टे से शव को जगह नही दी गयी!
Casteism Controversy during cremation of Dalit woman, dead body was not given place for 7 hours!

हमारी खबरों को फटाफट पढ़ने के लिए Google News पर हमें Follow करे

देपालपुर(Depalpur)। आज देश में  जातिवाद कितना हावी है यह इस बात से साफ देखा जा सकता है कि लोगों पर कितना भेदभाव हो रहा है मरने के बाद भी सम्मान नहीं मिल रहा है। तो जीते जी क्या? फिर भी कुछ लोग बोलते है की देश में जाति खत्म हो गई हे? जिसका नया उदहारण  मध्यप्रदेश(Madhya Pradesh) से जहा एक दलित महिला के अंतिम संस्कार को लेकर विवाद हो गया।

पूरा मामला मध्यप्रदेश के इंदौर जिले के देपालपुर के चटवाड़ा गांव का है। जहाँ चटवाड़ा में दलित महिला के अंतिम संस्कार को लेकर विवाद हो गया। जानकारी के अनुसार महिला के शव को श्मशान घाट अंतिम संस्कार को लेकर बलाई समाज और बहुजन समाज के लोग के साथ में निजी श्मशान गए जहाँ उन्हें  गांव के कुछ लोगों ने आपत्ति जताई। लोगो ने कहा कि बलाई समाज का श्मशान वही पर अंतिम संस्कार कर ले हम यह नहीं होने देंगे।

जिसके बाद वहाँ पर अखिल भारतीय बलाई महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज परमार लोगो के साथ वही पर  धरने पर बैठ गए। सुचना पाकर मौके पर तहसीलदार बजरंग बहादुर घटना स्थल पर गए। उन्होंने लोगो को समझाइश के बाद लोग मन गए।  एसडीएम प्रतुल सिन्हा का कहना है कि निजी श्मशान पर अंतिम संस्कार को लेकर कुछ लोग अड़े हुए थे। शांति व्यवस्था बनी रहे ,इस लिए इस मामले को  सुलझा लिया गया।


 बहुजन समाज की सबसे तेज खबरें पाने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को लाईक करें, Twitter पर फॉलो भी करे और यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

1 comment:

  1. खून खौल्ता है ऐसे समाचर सुनकर,ऐसे समाज दरपोक है,मरो या मार डालो मगर ऐसे ऐसी समाजिक व्यवस्था नही चाहिये ।

    ReplyDelete